सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी के लाभ

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी के लाभ – आधुनिक सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी ने हमारे दैनिक जीवन के विभिन्न क्षेत्रों जैसे शिक्षा व्यापार बैंकिंग चिकित्सा को प्रभावित किया है। इसने हमारे सोचने के ढंग, संप्रेषण करने के तरीके एवं अधिकांश चीजो को प्रभावित किया है।

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी के लाभ

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी के शिक्षा में लाभ निम्न है –

  1. ज्ञान आधारित समाज के निर्माण में सहायक
  2. छात्रों का व्यक्तिगत विकास
  3. शिक्षण में सहायक
  4. शिक्षण अधिगम प्रक्रिया के स्वरूप में परिवर्तन
  5. शिक्षक प्रशिक्षण में सहायक
  6. छात्र केंद्रित शिक्षण में सहायक
  7. परामर्श देने में सहायक
  8. शैक्षिक प्रशासन में सहायक
  9. शैक्षिक शोध कार्यों में सहायक

ज्ञान आधारित समाज के निर्माण में सहायक

नवीनतम यंत्रों एवं विधियों के द्वारा सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी ने शिक्षा के माध्यम से ज्ञान आधारित समाज के निर्माण में सहायता प्रदान की है। इस युग में परंपरागत तकनीक की सहायता से शिक्षण प्रदान करके नव युवकों को आने वाले परिवर्तनों के लिए तैयार नहीं किया जा सकता है। सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी का समुचित प्रयोग इस दिशा में सहायक सिद्ध हो रहा है।

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी
सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी

छात्रों का व्यक्तिगत विकास

छात्र अपने स्वयं के विकास के लिए सूचनाओं को प्राप्त करने एवं प्रयोग करने का प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं। इसके द्वारा छात्र अपने जिज्ञासाओं को शांत कर सकते हैं तथा अविष्कार निर्माण आदि में सहायता प्राप्त कर सकते हैं। उपर्युक्त निर्णय क्षमता तथा समस्या समाधान की योग्यता प्राप्त करके छात्रों के व्यवहार में आवश्यक परिवर्तन लाया जा सकता है। सूचना एवं संप्रेषण तकनीकों के द्वारा छात्र ज्ञान, समझ, कौशल, रुचि, अभिवृत्ति आदि अर्जित कर सकते हैं।

व्यक्तिगत भिन्नता ओं के आधार पर छात्रों को अनुदेशन प्रदान किया जा सकता है। छात्र अपनी क्षमता आवश्यकता एवं गति के अनुसार स्व अनुदेशन प्राप्त कर सकते हैं।

शिक्षण में सहायक

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी शिक्षकों को शिक्षण अधिगम क्रिया में भी सहायता देती है। पुस्तकों पत्रिकाओं अध्ययन सामग्री, दृश्य श्रव्य सामग्री उपकरणों आदि के रूप में सूचनाओं के स्रोत शिक्षकों को शिक्षण अधिगम सामग्री एवं तकनीकी को प्राप्त करने में सहायक होते हैं।

छात्रों द्वारा स्व अनुदेशन प्राप्त करने में शिक्षक उस समय का प्रयोग में निर्देशन व परामर्श देने ट्यूटोरियल समूह शिक्षण आदि में कर सकते हैं। शिक्षण उद्देश्यों की प्राप्ति में सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी शिक्षकों व छात्रों की सहायता करती है।

शिक्षण अधिगम प्रक्रिया के स्वरूप में परिवर्तन

शिक्षण को अधिगम में परिवर्तित करने की क्षमता के कारण सूचनाओं और संप्रेषण तकनीकी ने शिक्षण अधिगम मन करता दोनों को अधिक सक्रिय अधिगम वातावरण प्रदान किया है। अब शैक्षिक उद्देश्यों को प्राप्त करने की क्रिया रोचक बन गई है। अब शिक्षक की भूमिका केवल ज्ञान प्रदान करने वाला ही नहीं बल्कि छात्र अधिगम में सहयोग करता तथा छात्र के साथ अधिगम में सक्रिय अधिगमन कर्ता की भी है।

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी

शिक्षक प्रशिक्षण में सहायक

सूचना और संप्रेषण तकनीकी कौन है शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है शिक्षक के बहुआयामी दायित्वों के निर्वाह करने के लिए चुनौतियों को स्वीकार करने में यह शिक्षक की सहायता करता है। सोच में शिक्षण प्रक्रिया में शिक्षण कौशलों के विकास में इसका प्रयोग किया जा सकता है। आधुनिक समाज की आवश्यकताओं के अनुरूप प्रभावी शिक्षकों के विकास में यह अत्यंत उपयोगी है।

छात्र केंद्रित शिक्षण में सहायक

शिक्षण अधिगम प्रक्रिया को शिक्षण केंद्रीय छात्र केंद्रित बनाने में सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है इसकी सहायता से छात्र बड़ी संख्या में सूचनाओं को प्राप्त कर सकते हैं तथा प्रभावी संप्रेषण के द्वारा सहयोगात्मक शिक्षण से कठिन कार्यों को भी कर सकते हैं इस प्रकार से ज्ञान तथा कौशल अर्जित करने छात्र अधिक आत्मनिर्देशित एवं आत्मविश्वास ही बनते हैं।

परामर्श देने में सहायक

परामर्श देने के कार्य में भी सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी सहायक होती है। अपेक्षित शैक्षिक व्यावसायिक तथा व्यक्तिगत परामर्श देने में सूचना के स्रोतों को प्राप्त करने में यह परामर्श दाताओं को सहायता पहुंचाती है। रिकॉर्ड की हुई इलेक्ट्रॉनिक सामग्री के द्वारा वे छात्रों के शैक्षिक स्तर रुचि अभिरुचि और व्यक्तित्व की अन्य विशेषताओं के बारे में जान सकते हैं तथा छात्रों की निर्देशन व परामर्श संबंधी आवश्यकताओं को पूरा कर सकते हैं।

सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी

शैक्षिक प्रशासन में सहायक

शैक्षिक प्रशासकों को उनकी व्यावसायिक जिम्मेदारियों का पालन करने में सूचना एवं संप्रेषण तकनीकी की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसके द्वारा में शिक्षा शैक्षिक प्रशासन का योजनाओं के क्षेत्र में विकास के बारे में सूचनाएं प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही साथ में संस्था की गतिविधियों से संबंधित सूचनाएं और आंकड़े शिक्षकों के क्रियाकलाप छात्रों की उपलब्धियों आदि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सचिव प्रशासकों के लिए यह सूचनाएं पाठ्यक्रम निर्माण विभिन्न स्तरों पर शैक्षिक उद्देश्यों मूल्यांकन विधि विद्यालयों को शिक्षा दिए जाने के संसाधनों आदमी के संबंध में निर्णय लेने में सहायक होती है शैक्षिक प्रशासन के कार्यों में संप्रेषण की सुविधा ने बहुत लाभ पहुंचाया है।

शैक्षिक शोध कार्यों में सहायक

सूचना और संप्रेषण तकनीकी ने शैक्षिक शोध कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है इसके माध्यम से शोध कार्यो के लिए अपेक्षित शुद्ध एवं विभिन्न प्रकार की सूचनाएं प्राप्त होती हैं। संप्रेषण के स्रोतों के द्वारा शोध कार्य आसानी से हो सकते हैं।

इस प्रकार शिक्षा के सभी क्षेत्रों में सूचना और संप्रेषण तकनीकी की महत्वपूर्ण भूमिका है शैक्षिक उद्देश्यों की प्राप्ति में यह प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप में अत्यंत सहायक है।

पाठ्यक्रम अर्थ परिभाषा आवश्यकता महत्वपाठ्यक्रम का आधारपाठ्यक्रम का क्षेत्र
पाठ्यक्रम के लाभपाठ्य सहगामी क्रियाएंशैक्षिक उद्देश्य स्रोत आवश्यकता
पाठ्यक्रम के उद्देश्यमूल्यांकन की विशेषताएंअच्छे शिक्षण की विशेषताएं
प्रभावशाली शिक्षणगृहकार्य की विशेषताएंसूचना एवं संप्रेषण तकनीकी के लाभ
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments