चीन की जलवायु

चीन की जलवायु – भौगोलिक विविधता व विस्तृत क्षेत्रफल के कारण चीन में अनेक प्रकार की जलवायु मिलती है। कोपेन जलवायु वर्गीकरण के आधार पर चीन में निम्न जलवायु प्रदेश मिलते हैं-

  1. शीतल स्टेपी शुष्क शीत प्रकार
  2. शीतल मरुस्थलीय प्रकार
  3. गर्म शुष्क शीतकाल प्रकार
  4. गर्म आद्र प्रकार
  5. शीतल शुष्क शीतकालीन प्रकार
  6. शीतल शुष्क शीत ऋतु प्रकार
  7. उच्च भाग का टुंड्रा प्रकार
चीन की जलवायु
चीन की जलवायु

चीन की जलवायु

चीन की जलवायु को राष्ट्रीय अनुसंधान संस्थान नानकिंग के निदेशक डॉ• चू कोचिंग ने तापमान और वर्षा के वितरण की क्षेत्रीय भिन्नता के आधार पर निम्न भागों में विभाजित किया है-

  1. दक्षिणी चीन प्रकार की जलवायु – इस प्रदेश में जनवरी का औसत तापमान 10° से अधिक होता है। यहां वर्षा 100 सेमी• से अधिक होती है। इस प्रदेश में उष्णकटिबंधीय पतझड़ वन मिलते हैं। यहां एक साल में धान की तीन फसलें होती हैं। इस प्रदेश को टाइफून प्रभावित करता है।
  2. मध्य चीन घाटी प्रकार की जलवायु – इस जलवायु प्रदेश में शीत ऋतु का तापमान 10° से कम हो जाता है। इसी क्षेत्र में वर्षा 75 सेमी से कम होती है। इस प्रदेश में टाइफून जुलाई व अगस्त के महीने में पहुंचता है। यहां शीतोष्ण कटिबंधीय पतझड़ वन मिलते हैं। चीन की अधिकांश चाय यहीं पैदा होती है।
  3. उत्तरी चीन तुल्य जलवायु – यहां पर नवंबर के महीने का तापमान 0° से अधिक तथा 10° से कम रहता है। यहां पर अधिकांश वर्षा जुलाई के महीने में होती है। शीत ऋतु बिल्कुल शुष्क रहती है। यहां की मुख्य फसल गेहूं, ज्वार तथा बाजरा है।
  4. मंचूरिया प्रकार की जलवायु – इस जलवायु प्रदेश में कम से कम 5 महीने औसत आप 0° से कम होता है। यहां केवल 5 या 6 महीने में फसल उत्पादन होता है। वार्षिक वर्षा 40 से 60 सेमी के बीच होती है। इस क्षेत्र की मुख्य फसलें बसंतकालीन गेहूं तथा सोयाबीन है। यहां सदाबहार वन पाए जाते हैं।
चीन की जलवायु
चीन की जलवायु
  1. यून्नान पठार प्रकार की जलवायु – इससे पठार की समुद्र तल से औसत ऊंचाई 1000 से 3000 सेमी है। यहां की औसत वर्षा 175 सेमी अधिक होती है।
  2. स्टेपी प्रकार की जलवायु – इस जलवायु प्रदेश का औसत वार्षिक ताप 5° से 10° रहता है। यहां की वार्षिक वर्षा का औसत 20 से 40 सेमी होता है।
  3. तिब्बत प्रकार की जलवायु – इस जलवायु प्रदेश में वर्ष भर बर्फ जमी रहती है क्योंकि यह जलवायु तिब्बत में 3000 मीटर से अधिक ऊंचे भागों में पाई जाती है।
  4. मंगोलिया प्रकार की जलवायु – मंगोलिया, सिकियांग तथा तिब्बत में मौसम केंद्रों का अभाव होने से यहां के मौसम आंकड़े कम उपलब्ध हैं इस प्रदेश में मरुस्थली प्रकार की जलवायु पाई जाती है।

चीन की जलवायु को प्रभावित करने वाले कारक

मुख्य रूप से चीन की जलवायु मानसूनी है। यहां की जलवायु में मुख्य रूप से निम्न प्राकृतिक कारकों का प्रभाव देखने को मिलता है।

  1. अक्षांशीय स्थिति
  2. उच्चावच
  3. उष्ण क्षेत्रीय चक्रवात
  4. महादेशीय प्रभावयुक्त चक्रवात
  5. विस्तार
  6. संरचना
  7. जलधाराएं
चीन की जलवायु
चीन की जलवायु
सुदूर पूर्व एशियाचीन स्थिति भूवैज्ञानिक संरचनाचीन भूपृष्ठीय रचना
चीन की स्थलाकृतियांचीन भौगोलिक निबंधचीन का पठारी भाग
चीन की जलवायुचीन के वन 10 वनस्पतियां वन विनाशचीन की मिट्टियां
चीन कृषि विशेषताएं महत्वचीन खनिज संसाधनचीन जनसंख्या वृद्धि
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments