ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड

ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड से तात्पर्य प्राथमिक स्कूलों को न्यूनतम आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। स्कूल सुधार योजना के एक आंशिक हिस्से के रूप में यह कार्यक्रम संपूर्ण देश में लागू किया गया है। ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड स्कूलों में आवश्यक न्यूनतम शिक्षण सहायक सामग्री को उपलब्ध कराना मात्र नहीं है अपितु यह एक मानसिकता और आचरण का परिचायक है। यह उचित लोगों के द्वारा उचित समय पर उचित भावना तथा उचित ढंग से काम करने की प्रेरणा है।

ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड

ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड

ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड योजना का लक्ष्य स्थानीय निकायों पंचायती राज तथा मान्यता प्राप्त एवं सहायता प्राप्त संस्थाओं द्वारा संचालित प्राथमिक स्कूलों में उपलब्ध सुविधाओं में पर्याप्त सुधार लाना है। ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड योजना के परस्पर आधारित तीन घटक है-

  1. एक ऐसे स्कूल भवन का प्रावधान जिसमें सभी मौसमों में प्रयोग किए जाने वाले कम से कम 2 बड़े कमरों सही देव खुला बरामदा तथा लड़के लड़कियों के लिए प्रथक प्रथक शौचालय की सुविधा हो।
  2. प्रत्येक स्कूल में कम से कम 2 शिक्षक हो, जिनमें यथासंभव एक महिला शिक्षिका हो।
  3. कार्यानुभव के लिए ब्लैक बोर्ड, नक्शे, चार्ट, खिलौने तथा खेल का सामान, स्कूल की घंटी, चाक, डस्टर, पीने का पानी, प्राथमिक विज्ञान किट, पुस्तकालय एवं खेल का मैदान इत्यादि का प्रावधान कराना।

दूरस्थ शिक्षा की आवश्यकता

स्कूल भवन का निर्माण कराने के लिए धन मुख्य रूप से ग्रामीण विकास योजनाओं से उपलब्ध कराया जाएगा। उपर्युक्त दो घटनाओं के लिए राशि मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय द्वारा प्रदान की जाएगी। इस योजना (ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड) में देश के सभी खंडों, महापालिका, क्षेत्रों के सभी प्राथमिक स्कूलों को क्रमबद्ध तरीके से सम्मिलित करने की परिकल्पना निर्धारित की गई है।

guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments